RRGwrites

On life…and learning

Posts Tagged ‘Pran – Walt Disney of India

अलविदा, कार्टूनिस्ट प्राण साहब…

leave a comment »

Cartoonist Pranमहान कार्टूनिस्ट प्राण साहब नहीं रहे… मालूम होता है कोई बड़ा अपना छोड़ के चला गया। एक-एक कर के बचपन के दिन आँखों के सामने घूम गए। पिंकी, बिल्लू, साबू, राका, रमन, चन्नी चाची – कितने ही अमर चरित्र उन्होंने रचे! कौन भूल सकता है उनके कालजयी चरित्र – चाचा चौधरी को! वो चाचा, जो शायद हम बच्चों को अपने सगे चाचाओं से भी ज़्यादा पसंद थे। जिस उम्र में मैंने और मेरे साथ के अनेक बालकों ने ना तो कंप्यूटर देखा था ना उसके बारे में जानते थे, हमें यह ज़रूर यकीन था कि, “चाचा चौधरी का दिमाग कंप्यूटर से भी तेज़ चलता है”!

प्राण साहब के कार्टून-चरित्रों के साथ एक पूरी पीढ़ी बड़ी हुयी है। वो पीढ़ी, जिसके कई कान्वेंट-शिक्षित नौनिहाल शायद हिंदी बोलना-पढ़ना जानते है इस-अंग्रेज़-दां ज़माने में, तो इसका बहुत श्रेय प्राण साहब की कॉमिक्स को जाता है। स्पाइडरमैन, सुपरमैन, डेनिस-द-मेनेस, फैंटम, इत्यादि के ज़माने में हमें अपना देसी सुपरमैन देने वाले आप ही थे। आपके चरित्र हमारे जैसे थे, हमारी भाषा बोलते थे, हमारी समस्याओं से जूझते थे; उन्हें हम रोज़-मर्रा की ज़िंदगी में अपने आस-पास, गलियों-मुहल्लों में देख पाते, उनसे राब्ता कायम कर पाते।

बड़े लोगों के निधन के बाद ऐसा अमूमन कहा जाता है कि एक युग बीत गया इनके जाने के साथ। प्राण साहब के लिए ये जुमला एकदम मुफीद होगा। जैसा आप कहते थे, “महंगाई और अन्य समस्याओं से बोझिल आम आदमी को हँसा सकूँ, ये मेरा प्रयास है”, अब ऐसा कहने वाले कहाँ मिलेगा…

जनाब प्राण साहब, आप बहुत याद आएंगे। और मुझे पूरा यकीन है, चाचा, बिल्लू, पिंकी, रमन और चन्नी चाची के रूप में आप हमेशा हमारे मन में रहेंगे, हमें गुदगुदाते रहेंगे।

इस यकीन के साथ कि खुदा ने अपने खुद की हँसी के वास्ते आपको जन्नत ही बख्शी है, अलविदा…

_____________________________________________________________

Image-credit: Caricature by Raghupati Sringeri on Facebook

%d bloggers like this: